जम्मू से मुजफ्फरनगर पहुंचा जवान मोहित का पार्थिव शरीर, अंतिम दर्शन को उमड़ा जनसैलाब : News & Features Network

जम्मू से मुजफ्फरनगर पहुंचा जवान मोहित का पार्थिव शरीर, अंतिम दर्शन को उमड़ा जनसैलाब : News & Features Network

मुजफ्फरनगर। शहीद मोहित बालियान का पार्थिव शरीर पहुंचा तो वहां देश भक्ति का नजारा देखने को मिला।मोहित जम्मू कश्मीर में मुठभेड़ में शहीद हुए थे। भारत माता की जय घोष के साथ पार्थिव शरीर पर ग्रामीणों ने फूलों की वर्षा की।

केंद्रीय राज्यमंत्री संजीव बालियान समेत बड़ी संख्या में लोग भी गांव पहुंचे। भौराकलां के गढ़ी नोआबाद में पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार किया गया।

जम्मू कश्मीर के पुंछ राजौरी सेक्टर में शहीद हुए मोहित बालियान का मुजफ्फरनगर के भौराकलां थाने के गांव गढ़ी नोआबद में अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ पूर्ण हुआ। वीर सपूत के पराक्रम को नमन करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार कपिल देव अग्रवाल ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

अंतिम संस्कार यात्रा में केंद्रीय राज्यमंत्री संजीव बालियान, भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत के साथ हज़ारो क्षेत्रवासीयो ने अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की।

तिरंगे ध्वज से सजे ट्रैक्टर ट्रॉली पर मोहित बालियान के शव को ले जाया गया तो आसमान जब तक सूरज चांद रहेगा मोहित तेरा नाम रहेगा नारों से गूंज गया।

ट्रैक्टर पर डॉक्टर संजीव बालियान, कपिल देव अग्रवाल, नरेश टिकैत आदि बैठे हुए थे। बताते चलें के डॉक्टर संजीव बालियान द्वारा मुजफ्फरनगर के अंदर अभी तक ३ सैन्य भर्तियां का आयोजन कराया गया है।

पहली भर्ती २०१५ में खुली थी उसी भर्ती में मोहित सेना में शामिल हुआ था। जो २३ वर्ष की उम्र में वतन के ऊपर शहादत देकर शहीद हो गया।

For Full News ClickShamli news

Related articles

Leave a Reply