हुड्डा बोले- बरौदा उपचुनाव बातों पर नहीं मुद्दों पर होगा, जनता मांगेगी विरोधी नीतियों का हिसाब

हुड्डा बोले- बरौदा उपचुनाव बातों पर नहीं मुद्दों पर होगा, जनता मांगेगी विरोधी नीतियों का हिसाब

[ad_1]

हरियाणा कांग्रेस की बैठक
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

कांग्रेस ने बरौदा उपचुनाव के लिए कमर पूरी तरह कस ली है। मंगलवार को चंडीगढ़ स्थित आवास पर पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने पार्टी विधायकों से उपचुनाव को लेकर मंथन किया और उनकी ड्यूटी लगाई। उन्होंने कहा कि उपचुनाव सरकार के झांसों और हवा-हवाई बातों पर नहीं, आमजन से जुड़े मुद्दों पर होगा।

चुनाव में जनता बीजेपी से उसकी किसान विरोधी नीतियों, लगातार बढ़ती बेरोज़गारी और बढ़ते अपराध का हिसाब मांगेगी। हुड्डा ने कहा कि बीजेपी के पास बरौदा में गिनवाने के लिए कोई काम नहीं है जबकि कांग्रेस सरकार के दौरान यहां जमकर विकास कार्य हुए थे। हलके की बात की जाए तो कांग्रेस सरकार में देश की पहली महिला यूनिवर्सिटी और मेडिकल कॉलेज की स्थापना यहां की गई।

बिजली सप्लाई और सिंचाई की पूरी व्यवस्था की गई। सोनीपत को शिक्षा का हब बनाया गया। गोहाना, जींद, सोनीपत रेलवे लाइन बनाई। यही नहीं कांग्रेस सरकार में रेल कोच फैक्टरी को भी मंज़ूरी मिल गई थी। इससे इलाक़े के हज़ारों युवाओं को रोज़गार मिलता। बीजेपी सरकार ने उस प्रोजेक्ट को रद्द कर दिया। भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि किसान ही नहीं, मौजूदा सरकार से हर वर्ग परेशान है।

सरकार कच्चे और पक्के कर्मचारियों को नौकरी से हटा रही है। नौकरियां ख़त्म की जा रही हैं। बेरोज़गारी लगातार बढ़ रही है। इसी का नतीजा है कि प्रदेश में अपराध का ग्राफ भी लगातार ऊपर की तरफ जा रहा है। हत्या, लूट, डकैती जैसी वारदातें अब हरियाणावासियों की दिनचर्या का हिस्सा बन गई हैं।

बरोदा उपचुनाव में बीजेपी सरकार की इन तमाम नाकामियों और कारगुजारियों को कांग्रेस जनता के बीच लेकर जाएगी और निश्चित ही जनता सरकार को सबक सिखाएगी।

कांग्रेस ने बरौदा उपचुनाव के लिए कमर पूरी तरह कस ली है। मंगलवार को चंडीगढ़ स्थित आवास पर पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने पार्टी विधायकों से उपचुनाव को लेकर मंथन किया और उनकी ड्यूटी लगाई। उन्होंने कहा कि उपचुनाव सरकार के झांसों और हवा-हवाई बातों पर नहीं, आमजन से जुड़े मुद्दों पर होगा।

चुनाव में जनता बीजेपी से उसकी किसान विरोधी नीतियों, लगातार बढ़ती बेरोज़गारी और बढ़ते अपराध का हिसाब मांगेगी। हुड्डा ने कहा कि बीजेपी के पास बरौदा में गिनवाने के लिए कोई काम नहीं है जबकि कांग्रेस सरकार के दौरान यहां जमकर विकास कार्य हुए थे। हलके की बात की जाए तो कांग्रेस सरकार में देश की पहली महिला यूनिवर्सिटी और मेडिकल कॉलेज की स्थापना यहां की गई।

बिजली सप्लाई और सिंचाई की पूरी व्यवस्था की गई। सोनीपत को शिक्षा का हब बनाया गया। गोहाना, जींद, सोनीपत रेलवे लाइन बनाई। यही नहीं कांग्रेस सरकार में रेल कोच फैक्टरी को भी मंज़ूरी मिल गई थी। इससे इलाक़े के हज़ारों युवाओं को रोज़गार मिलता। बीजेपी सरकार ने उस प्रोजेक्ट को रद्द कर दिया। भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि किसान ही नहीं, मौजूदा सरकार से हर वर्ग परेशान है।

सरकार कच्चे और पक्के कर्मचारियों को नौकरी से हटा रही है। नौकरियां ख़त्म की जा रही हैं। बेरोज़गारी लगातार बढ़ रही है। इसी का नतीजा है कि प्रदेश में अपराध का ग्राफ भी लगातार ऊपर की तरफ जा रहा है। हत्या, लूट, डकैती जैसी वारदातें अब हरियाणावासियों की दिनचर्या का हिस्सा बन गई हैं।

बरोदा उपचुनाव में बीजेपी सरकार की इन तमाम नाकामियों और कारगुजारियों को कांग्रेस जनता के बीच लेकर जाएगी और निश्चित ही जनता सरकार को सबक सिखाएगी।

[ad_2]

Source link

Related articles

Leave a Reply