chetan chauhan on his debut match get run after 25 minutes in the pitch

chetan chauhan on his debut match get run after 25 minutes in the pitch

लखनऊ: पूर्व क्रिकेटर और यूपी सरकार के मंत्री चेतन चौहान का निधन हो गया है. कोरोना वायरस से संक्रमित उत्तर प्रदेश के होमगार्ड मंत्री चेतन चौहान को कल ही गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. उनकी किडनी फेल हो गई थी. उनको लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था और हालत नाजुक बनी हुई थी. जिसके बाद आज उनका निधन हो गया. चेतन चौहान के नाम खेल के दिलचस्प किस्से भी जुड़े हैं.

गावस्कर के साथ पार्टनरशिप हमेशा की जाएगी याद
सुनील गावस्कर और चेतन चौहान के बीच 1979 के ओवल टेस्ट में हुई ओपनिंग पार्टनरशिप आज भी याद की जाती है. इंग्लैंड के खिलाफ 438 रनों के बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए दोनों ने पहले विकेट के लिए 213 रन बनाए थे. तब चौहान 80 रन बनाकर आउट हुए, जबकि गावस्कर ने दोहरा शतक (221) जड़ा था. हालांकि भारतीय टीम 429/8 रन ही बना पाई मैच हार गई थी.

पहले मैच में 25 मिनट बना पाए थे एक रन
चेतन चौहान ने 1968 में पहला मैच खेला था. यह मैच इंडिया इलेवन और इंटरनेशनल इलेवन के बीच हुआ था. इसमें चेतन चौहान ने पहले मैच में शून्य और दूसरे मैच में 30 रन बनाए थे. जबकि सितंबर 1969 में न्यूजीलैंड के खिलाफ मुंबई में अपना डेब्यू टेस्ट मैच खेला था. इस मैच में एक रन बनाने में उन्होंने काफी लंबा समय लिया था. उन्होंने पहले 25 मिनट तक कोई रन नहीं बनाया था, लेकिन उसके बाद न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ब्रूस टेलर की गेंद पर चौका लगाकर खाता खोला और अगली गेंद पर फिर छक्का जड़ दिया था.

सुनील गावसकर के साथ फिट थी चेतन चौहान की ओपनर जोड़ी, उनके नाम था यह अनोखा रिकॉर्ड

चेतन चौहान ने 40 टेस्ट मैचों में 31.57 के एवरेज से 2084 रन बनाए, जिसमें 16 अर्धशतक शामिल हैं. उन्होंने 7 वनडे इंटरनेशनल मैचों में 21.86 के एवरेज से 153 रन बनाए. 1981 में चेतन चौहान का इंटरनेशनल क्रिकेट का सफर खत्म हो गया, लेकिन वह 1984/85 तक प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलते रहे. वह महाराष्ट्र और दिल्ली की तरफ से रणजी ट्रॉफी खेलते थे. पिता के ट्रांसफर होने के बाद 13 साल की उम्र में वह पुणे शिफ्ट हो गए थे.

चौहान ने अपने करियर का आखिरी टेस्ट 1980-81 में न्यूजीलैंड दौरे पर खेला था. एक इंटरव्यू में वह कह चुके हैं, ‘मुझे नहीं पता कि चयनकर्ताओं ने मेरे साथ ऐसा क्यों किया. मैं अच्छी लय में था. मेरा फॉर्म कई भारतीय खिलाड़ियों से अच्छा था, लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ अगली सीरीज के लिए मेरा चयन नहीं हुआ. इससे मैं हैरान रह गया था.’

योगी सरकार में मंत्री और पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान का 73 वर्ष की उम्र में निधन, थे कोरोना संक्रमित

चेतन चैहान टीम इंडिया के मैनेजर भी रह चुके हैं. 2001 में भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज के दौरान वह उस भारतीय टीम के मैनेजर रहे, जिसने 2001 के ऐतिहासिक कोलकाता टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया को मात दी थी. 2007-08 के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी वह मैनजर रहे, इसी दौरे में ‘मंकीगेट विवाद’ छाया था.

WATCH LIVE TV



[

Source link

Related articles

Leave a Reply