Congress Leader Raghu Sharma Says I Challenge Bjp To Free The 19 Mlas, They Will Return To Congress – राजस्थान Update: संजय जैन को चार दिन की रिमांड, भाजपा नेताओं का वॉयस सैंंपल देने से इनकार

Congress Leader Raghu Sharma Says I Challenge Bjp To Free The 19 Mlas, They Will Return To Congress – राजस्थान Update: संजय जैन को चार दिन की रिमांड, भाजपा नेताओं का वॉयस सैंंपल देने से इनकार

[ad_1]

राजस्थान में सियासी संकट के बीच बयानों का दौर लगातार जारी है। कांग्रेस और भाजपा की ओर से एक-दूसरे पर हमलों का सिलसिला तेज हो गया है। सियासी उठापटक के बीच आज पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने भी चुप्पी तोड़ी है। वहीं, आज अदालत ने ऑडियो टेप कांड में आरोपी संजय जैन को 4 दिन की हिरासत में भेज दिया।  जानिए अबतक का अपडेट-    

गृह मंत्रालय ने मुख्य सचिव से मांगी रिपोर्ट

सूत्रों के मुताबिक खहर है कि गृह मंत्रालय ने राज्य में फोन टेपिंग मुद्दे पर राजस्थान के मुख्य सचिव से रिपोर्ट मांगी।

सीएम अशोक गहलोत ने आज राजभवन में राज्यपाल से भेंट की
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज राजभवन में राज्यपाल कलराज मिश्र से भेंट की।
 

अब हम सीएम और सरकार के साथ खड़े हैं -राजकुमार राउत
बीटीपी विधायक राजकुमार राउत ने कहा है कि हमने पहले फैसला किया था कि किसी पार्टी को समर्थन नहीं देंगे। इसे लेकर विप भी जारी किया गया था। हमने सरकार को कुछ शर्तों के साथ समर्थन दिया था, लेकिन पहले उन्होंने इसमें कुछ ढिलाई बरती थी। अब सीएम हमारी मांगों को पूरा करने के लिए सहमत हो गए हैं। अब हम सीएम और सरकार के साथ खड़े हैं। 

दोनों विधायकों ने भाजपा के धनबल की राजनीति को नकारा 
बीटीपी के दोनों माननीय विधायकों ने भाजपा के धनबल की राजनीति को नकार के राजस्थान में चुनी हुई लोकतान्त्रिक सरकार के साथ अपने क्षेत्र के विकास को प्राथमिकता देने का फैसला लिया है, जिसके लिए मैं दोनों माननीय सदस्यों के साथ बीटीपी पार्टी के प्रदेश नेतृत्व को बहुत बहुत बधाई एवं धन्यवाद देता हूं।  
 

भारतीय ट्राइबल पार्टी ने सीएम अशोक गहलोत को समर्थन पत्र सौंपा। 
 

कटारिया बोले, गहलोत साबित करें बहुमत
गृह और मुख्य सचिव ने फोन टैपिंग की इजाजत देने की बात से इनकार किया है। क्या ये हमारे अधिकारों का हनन नहीं है? हम बहुमत परीक्षण की मांग नहीं करते, लेकिन अगर अशोक गहलोत जी को लगता है कि उनके पास बहुमत है, तो उन्हें सदन में इसे साबित करना चाहिए: गुलाबचंद कटारिया, भाजपा नेता, राजस्थान 

संजय जैन को चार दिन की रिमांड पर भेजा
जयपुर की एक अदालत ने ऑडियो टेप कांड में आरोपी संजय जैन को चार दिन की रिमांड पर भेजा है। राजस्थान पुलिस की स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) मामले की जांच कर रही है और उसे संजय जैन की रिमांड मिली है। 

भाजपा नेताओं का आवाज का सैंपल देने से इनकार
भाजपा नेता अशोक सिंह और भरत मलानी ने अपनी आवाज का सैंपल देने से इनकार कर दिया है। ऑडियो क्लि मामले में जांच अधिकारी विधायकों व नेताओं की आवाज के सैंपल चाहते हैं। 

वसुंधरा राजे ने तोड़ी चुप्पी
भाजपा नेता व राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने राजस्थान संकट पर अपनी चुप्पी तोड़ी है। राजे ने आज कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि राज्य की जनता को कांग्रेस की भीतरी लड़ाई का खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। कांग्रेस के लोग इसका आरोप भाजपा पर लगाने का प्रयास कर रहे हैं। 

ऑडियो टेप मामले को लेकर एफआईआर दर्ज
शनिवार को प्रदेश के एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) के महानिदेशक  आलोक त्रिपाठी ने कहा कि विधायक खरीद-फरोख्त ऑडियो टेप मामले को लेकर एफआईआर दर्ज कराई गई है। विधानसभा में मुख्य सचेतक महेश जोशी की शिकायत पर एफआईआर दर्ज हुई है। आलोक त्रिपाठी ने बताया कि महेश जोशी ने 10 जून को शिकायत दर्ज कराई थी कि विधायकों को लालच दिया जा रहा है। हालांकि उस शिकायत में किसी का नाम नहीं था, लेकिन शुक्रवार को उनका बयान लिया गया। उन्होंने ऑडियो क्लिप प्रस्तुत की और अपने बयान में भंवर लाल शर्मा, संजय जैन और गजेंद्र सिंह का नाम लिया है। 

स्वास्थ्य मंत्री की चुनौती
राजस्थान में जारी सियासी संकट के बीच राजस्थान सरकार में स्वास्थ्य मंत्री और कांग्रेस नेता रघु शर्मा ने भाजपा को चुनौती दे डाली है। उन्होंने कहा है कि मैं भाजपा को चुनौती देता हूं कि वह 19 विधायकों को अपने चंगुल से मुक्त करे, ऐसा करते ही वे सभी वापस कांग्रेस में लौट आएंगे। शर्मा ने कहा कि विधायकों को यह मालूम है कि अगर लोग उन्हें बिका हुआ देखेंगे तो वे उनसे नजरे नहीं मिला पाएंगे। 
 

वहीं, राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया कि राजस्थान स्पेशल ऑपरेशंस ग्रुप (एसओजी) की टीम को भाजपा सरकार की हरियाणा पुलिस ने तब तक इंतजार करने के लिए कहा, जब तक कि रिसॉर्ट (मानेसर में) के विधायक बाहर नहीं निकल गए।


 

संबित पात्रा का कांग्रेस पर हमला

दूसरी तरफ, राजस्थान संकट पर भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा राजस्थान में सीएम बनने को लेकर रस्साकशी थी। कांग्रेस के घर की लड़ाई सड़क तक आ गई है। शुरू से ही गहलोत और पायलट के बीच मतभेद थे। भाजपा नेता ने कांग्रेस आलाकमान और राजस्थान के नेताओं से कुछ सवाल पूछे हैं। उन्होंने कहा, ‘क्या फोन टेपिंग किया गया? क्या आधिकारिक रूप से फोन टेपिंग किया गया?’

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कांग्रेस से पूछा, ‘क्या यह एक संवेदनशील और कानूनी विषय नहीं है? क्या फोन टेपिंग मामले में मानक प्रक्रिया एसओपी का पालन कांग्रेस द्वारा किया गया? राजस्थान की जनता जानना चाहती है कि क्या उनकी निजता खतरे में है? क्या राजस्थान की कांग्रेस सरकार खुद को विपरीत परिस्थितियों में पाकर गैर संवैधानिक तरीकों को अपना रही है? क्या कानून को ताक पर रखकर हथकंडे अपनाए जा रहे हैं? क्या राजस्थान में प्रत्येक व्यक्ति चाहे वह किसी भी पार्टी से हो, उसका फोन टेपिंग किया जा रहा है?’ 



[ad_2]

Source link

Related articles

Leave a Reply