Congress Working Committee Meeting Live Updates Sonia Gandhi Rahul Gandhi Congress Leaders Letter Leadership – Live: कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में सोनिया ने की अध्यक्ष पद छोड़ने की पेशकश

Congress Working Committee Meeting Live Updates Sonia Gandhi Rahul Gandhi Congress Leaders Letter Leadership – Live: कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में सोनिया ने की अध्यक्ष पद छोड़ने की पेशकश

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Mon, 24 Aug 2020 12:19 PM IST

सीडब्ल्यूसी की बैठक जारी है
– फोटो : ANI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

कांग्रेस में नेतृत्व को लेकर छिड़ी बहस के बीच सोमवार को कांग्रेस कार्यसमिति की आभासी बैठक चल रही है। यह बैठक काफी महत्वपूर्ण है। वहीं बैठक के दौरान नेतृत्व के सवाल पर बात हो रही है। इसी बीच पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अध्यक्ष पद के छोड़ने की पेशकश की है। उन्होंने कहा कि मुझे रिप्लेस करने की प्रक्रिया शुरू करें। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और वरिष्ठ नेता एके एंटनी ने उनसे पद पर बने रहने को कहा है। यहां पढ़ें सभी अपडेट्स-
सोनिया ने की इस्तीफे की पेशकश
बैठक में पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की इच्छा जाहिर की है। उन्होंने कहा कि मुझे रिप्लेस करने की प्रक्रिया शुरू करें।

कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक हुई शुरू
कांग्रेस कार्यसमिति की आभासी बैठक शुरू हो गई है। इसमें मनमोहन सिंह, प्रियंका गांधी वाड्रा, कैप्टन अमरिंदर सिंह सहित कांग्रेस के नेता शामिल हो गए हैं।
 

कार्यकर्ताओं ने पार्टी कार्यालय के बाहर लगाए नारे
दिल्ली में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पार्टी कार्यालय के बाहर नारे लगाए। उन्होंने मांग की कि पार्टी अध्यक्ष गांधी परिवार से होना चाहिए। कांग्रेस कार्यकर्ता जगदीश शर्मा ने कहा, ‘हम गांधी परिवार से पार्टी अध्यक्ष चाहते हैं। यदि किसी बाहरी व्यक्ति को अध्यक्ष बनाया जाता है तो पार्टी नष्ट और टूट जाएगी।’
 

सोनिया गांधी करें कांग्रेस का नेतृत्व: कमलनाथ
बैठक से पहले कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा, ‘श्रीमती सोनिया गांधी के नेतृत्व पर कोई भी सुझाव या आक्षेप बेतुका है। मैं श्रीमती सोनिया गांधी से अपील करता हूं कि वे अध्यक्ष के रूप में कांग्रेस पार्टी को मजबूती प्रदान करें और कांग्रेस का नेतृत्व करती रहें।’ मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि श्रीमती सोनिया गांधी के खिलाफ तमाम झूठी अफवाहों के बावजूद उन्होंने 2004 में कांग्रेस पार्टी की जीत का नेतृत्व किया और अटल बिहारी वाजपेयी को घर पर बैठाया।

इसके अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह का कहना है कि वे नेहरू-गांधी परिवार के बिना कांग्रेस की कल्पना नहीं कर सकते हैं और पार्टी का एक साधारण कार्यकर्ता किसी और को पार्टी अध्यक्ष के रूप में स्वीकार नहीं करेगा।

कांग्रेस में केवल हेडमास्टर का बच्चा ही ऊपर पहुंचता है: नरोत्तम मिश्रा
मध्यप्रदेश के मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस अध्यक्ष पद को लेकर जारी खींचतान पर तंज कसते हुए कहा, कांग्रेस में कई योग्य उम्मीदवार हैं (पार्टी अध्यक्ष के पद के लिए) जैसे राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, रेहान वाड्रा और मिराया वाड्रा। कांग्रेस सदस्यों को यह समझना चाहिए कि कांग्रेस उस स्कूल की तरह है जहां केवल हेडमास्टर का बच्चा ही सबसे ऊपर पहुंचता है।
 

 

कांग्रेस में नेतृत्व को लेकर छिड़ी बहस के बीच सोमवार को कांग्रेस कार्यसमिति की आभासी बैठक चल रही है। यह बैठक काफी महत्वपूर्ण है। वहीं बैठक के दौरान नेतृत्व के सवाल पर बात हो रही है। इसी बीच पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अध्यक्ष पद के छोड़ने की पेशकश की है। उन्होंने कहा कि मुझे रिप्लेस करने की प्रक्रिया शुरू करें। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और वरिष्ठ नेता एके एंटनी ने उनसे पद पर बने रहने को कहा है। यहां पढ़ें सभी अपडेट्स-

सोनिया ने की इस्तीफे की पेशकश

बैठक में पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की इच्छा जाहिर की है। उन्होंने कहा कि मुझे रिप्लेस करने की प्रक्रिया शुरू करें।

कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक हुई शुरू
कांग्रेस कार्यसमिति की आभासी बैठक शुरू हो गई है। इसमें मनमोहन सिंह, प्रियंका गांधी वाड्रा, कैप्टन अमरिंदर सिंह सहित कांग्रेस के नेता शामिल हो गए हैं।
 

कार्यकर्ताओं ने पार्टी कार्यालय के बाहर लगाए नारे
दिल्ली में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पार्टी कार्यालय के बाहर नारे लगाए। उन्होंने मांग की कि पार्टी अध्यक्ष गांधी परिवार से होना चाहिए। कांग्रेस कार्यकर्ता जगदीश शर्मा ने कहा, ‘हम गांधी परिवार से पार्टी अध्यक्ष चाहते हैं। यदि किसी बाहरी व्यक्ति को अध्यक्ष बनाया जाता है तो पार्टी नष्ट और टूट जाएगी।’
 

सोनिया गांधी करें कांग्रेस का नेतृत्व: कमलनाथ
बैठक से पहले कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा, ‘श्रीमती सोनिया गांधी के नेतृत्व पर कोई भी सुझाव या आक्षेप बेतुका है। मैं श्रीमती सोनिया गांधी से अपील करता हूं कि वे अध्यक्ष के रूप में कांग्रेस पार्टी को मजबूती प्रदान करें और कांग्रेस का नेतृत्व करती रहें।’ मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि श्रीमती सोनिया गांधी के खिलाफ तमाम झूठी अफवाहों के बावजूद उन्होंने 2004 में कांग्रेस पार्टी की जीत का नेतृत्व किया और अटल बिहारी वाजपेयी को घर पर बैठाया।


आगे पढ़ें

नेहरू-गांधी परिवार के बिना कांग्रेस की कल्पना नहीं: दिग्विजय सिंह

Source link

Related articles

Leave a Reply