coronavirus death rate in india below 2.5 percent for the first time | देश में पहली बार कोरोना से मृत्यु दर 2.5% से भी कम, 5 राज्यों में एक भी मौत नहीं

coronavirus death rate in india below 2.5 percent for the first time | देश में पहली बार कोरोना से मृत्यु दर 2.5% से भी कम, 5 राज्यों में एक भी मौत नहीं

[ad_1]

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (coronavirus) के ​मामले देश में लगातार बढ़ रहे हैं. लेकिन राहत की बात ये है कि कोरोना से मृत्यु दर (CFR) घटी है. पहली बार देश में मृत्यु दर 2.5% से नीचे आई है. 29 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में मृत्यु दर राष्ट्रीय औसत से भी कम दर्ज हुई है. इनमें उत्तर प्रदेश भी शामिल है.

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, हॉस्पिटलाइज्ड मामलों के प्रभावी क्लिनिकल मैनेजमेंट को लेकर केंद्र और राज्य सरकारों के प्रयासों की वजह से ऐसा संभव हो पाया ​है कि भारत में मृत्यु दर 2.5% से नीचे पहुंची है. 

प्रभावी कंटेनमेंट स्ट्रैटजी, आक्रामक टेस्टिंग और स्टैंडर्ड क्लिनिकल मैनेजमेंट प्रोटोकॉल्स की वजह से मौत के आंकड़ों में कमी आई है.

ये भी पढ़ें- चंद घंटों की बारिश से दिल्ली बेहाल, मिंटो रेलवे ब्रिज के नीचे भरा पानी; 1 की मौत

कोरोना से मृत्यु दर तेजी से घट रही है. दुनिया में भारत ऐसे देशों में है जहां कोरोना से मृत्यु दर सबसे कम रही है. देश में कोरोना से मृत्यु दर तेजी से घट रही है, जो अभी 2.49% है. 

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, टेस्टिंग बढ़ाने और हॉस्पिटल इंफ्रास्ट्रक्चर को बेहतर बनाने की वजह से ये संभव हो पाया है. कई राज्यों ने पॉपुलेशन सर्वे किए जिससे आबादी में ऐसे लोगों की पहचान की सके जिनके महामारी के चपेट में आने का खतरा ज्यादा है. इसके तहत बुजुर्गो, गर्भवती महिलाओं और ऐसे लोगों की पहचान की गई जिन्हें पहले से ही कोई बीमारी है. इसके तहत हाई रिस्क पॉपुलेशन को ऑब्जर्वेशन में रखा गया. वहीं शुरुआत स्टेज में बीमारी का पता लगने और ​समय पर इलाज से भी लोगों की जान बचाई जा सकी.

29 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में मृत्यु दर राष्ट्रीय औसत  2.49% से भी कम है. 5 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में मृत्यु दर 0 है. वहीं 14 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में मृत्यु दर 1 प्रतिशत से भी कम है. 

ये भी देखें-



[ad_2]

Source link

Leave a Reply