COVID-19The problem is increasing from brew rather than increasing immunity sytem, wrong ratio of spices and overdose is the reason| क्या आप भी पी रहे हैं गिलोय, तुलसी और पुदीने का काढ़ा? हो सकती है परेशानी

COVID-19The problem is increasing from brew rather than increasing immunity sytem, wrong ratio of spices and overdose is the reason| क्या आप भी पी रहे हैं गिलोय, तुलसी और पुदीने का काढ़ा? हो सकती है परेशानी

नई दिल्लीः वैश्विक महामारी (Corona irus) की जंग से बचने के लिए इन दिनों हर कोई अपना इम्युनिटी सिस्टम (immunity Sytem) मजबूत करने में जुटा है. कोई योग के जरिए तो कोई प्राणायाम के जरिए. कई लोग ऐसे भी हैं जो अपने खान-पान में बदलाव के जरिए इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करने में लगे हैं. योग गुरू बाबा राम ने जब से कोरोना को मात देने के लिए गिलोय, तुलसी, पुदीना. काली मिर्च का सेवन करना बताया है तब से लोग इन्हीं चीजों का काढ़ा (Brew) बनाकर पी रहे हैं. कोई दिन में एक बार तो कई लोग इस काढ़े को दो बार भी पीते हैं. हालांकि अब खबर है कि अश्वगंधा, काली मिर्च, पुदीना, तुलसी, लोंग, लहसुन, हींग जैसे मसालों से बना काढ़ा मानव शरीर के लिए नुकसानदेह भी हो रहा है.

दरअसल, लोगों को इन चीजों का सही अनुपात न मालूम होने के कारण ये काढ़ा अब सेहत को नुकसान पहुंचा रहा है. इम्यूनिटी बढ़ाने वाली ऐसी औषधि और मसाले जरूरत से ज्यादा और गलत अनुपात में लेने से आपकी इम्युनिटी बढ़े न बढ़े लेकिन शरीर में दूसरी समस्याएं जरूर जन्म ले रही हैं. 

बिना अंडे के बनता है ये स्वादिष्ट ऑमलेट, यहां जानिए बनाने का आसान तरीका

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक दालचीनी, गिलोय, काली मिर्च जैसी चीजों का ओवरडोज पेट दर्द, सीने में जलन का कारण बन रहा है. इतना ही नहीं अब यह काढ़ा लीवर को भी डैमेज कर रहा है. इसीलिए इस तरह के काढ़ा बनाने से पहले आप किसी जानकार से सलाह लें तभी इसका सेवन करें. 

बता दें कि हल्दी, अदरक, काली मिर्च जैसे मसाले शरीर में काफी गर्मी लाते हैं. इनसे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है लेकिन अधिक मात्रा में लेने से कई बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है. पिछले काफी दिनों से लोगों ने आयुर्वेदिक दवाओं का सेवन भी बढ़ा दिया है. गलत दवा और ज्यादा खुराक लेने से कई साइड इफैक्ट होने का खतरा भी होता है. लोंग, लहसुन, दालचीनी और औषधियों के ज्यादा सेवन से शरीर में एसिडिटी, अल्सर जैसी समस्याएं भी जन्म ले रही हैं. लिहाजा इन दवाओं की सही खुराक और सही मात्रा पता होना भी जरूरी है. 

ये भी देखें-

Source link

Leave a Reply