Haryana School Education Board Released The Results Of Secondary Open – हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने सेकेंडरी ओपन का रिजल्ट किया जारी, 87.96 फीसदी परीक्षार्थी फेल

Haryana School Education Board Released The Results Of Secondary Open – हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने सेकेंडरी ओपन का रिजल्ट किया जारी, 87.96 फीसदी परीक्षार्थी फेल

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भिवानी (हरियाणा)
Updated Fri, 17 Jul 2020 08:31 PM IST

सांकेतिक तस्वीर।
– फोटो : सोशल मीडिया

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने सेकेंडरी ओपन (मुक्त विद्यालय) का परिणाम घोषित कर दिया है। परिणाम में 87.96 फीसदी परीक्षार्थी फेल हो गए हैं। बोर्ड का परिणाम पिछले वर्ष की तुलना में हालांकि 0.8 फीसदी सुधरा है। परिणाम 16.92 फीसदी रहा। 17.60 फीसदी लड़के तो 15.44 फीसदी लड़कियां पास हुईं।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने हरियाणा मुक्त विद्यालय परीक्षा मार्च-2020 की सेकेंडरी (फ्रेश) एवं सब्जेक्ट टू बी क्लीयर (सीटीपी)/(रि-अपीयर) परीक्षा का परिणाम बोर्ड चेयरमैन डॉ. जगबीर सिंह और सचिव राजीव प्रसाद ने घोषित किया। परीक्षार्थी अपना परीक्षा परिणाम बोर्ड की वेबसाइट पर देख सकते हैं। 

बोर्ड अध्यक्ष एवं सचिव ने बताया कि लॉकडाउन (कोविड-19 महामारी) से पूर्व सेकेंडरी मुक्त विद्यालय (फ्रेश) मार्च-2020 की परीक्षा के केवल चार विषयों की परीक्षा ही संचालित हो सकी थी। सेकेंडरी मुक्त विद्यालय (फ्रेश) का परिणाम 16.92 फीसदी और सेकेंडरी मुक्त विद्यालय (सीटीपी/रि-अपीयर) मार्च-2020 की परीक्षा का परिणाम 39.65 फीसदी रहा है। 

बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि सेकेंडरी मुक्त विद्यालय (फ्रेश) की परीक्षा में 16,915 परीक्षार्थी प्रविष्ट हुए थे, जिनमें से 2,862 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए और 14053 परीक्षार्थियों की रि-अपीयर आई है। 11545 लड़कों ने परीक्षा दी थी, जिनमें से 2032 पास हुए। इनकी पास प्रतिशतता 17.60 रही है, जबकि 5,369 प्रविष्ट लड़कियों में से 829 पास हुई। इनकी पास प्रतिशतता 15.44 रही है। 

लड़कों ने लड़कियों की अपेक्षा पास प्रतिशतता में 2.16 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की। ग्रामीण क्षेत्र के परीक्षार्थियों की पास प्रतिशतता 18.27 रही है, जबकि शहरी क्षेत्र के परीक्षार्थियों की पास प्रतिशतता 13.32 रही है। सचिव ने बताया कि इन परीक्षा परिणामों के आधार पर जो परीक्षार्थी अपनी उत्तर पुस्तिकाओं की पुन: जांच अथवा पुनर्मूल्यांकन करवाना चाहते हैं वे ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। पुन: जांच/पुनर्मूल्यांकन निर्धारित शुल्क सहित परिणाम घोषित होने की तिथि से 20 दिन तक ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता हैं।

सीटीपी-रि-अपीयर में 39.65 फीसदी हुए पास
बोर्ड सचिव ने बताया कि सेकेंडरी मुक्त विद्यालय (सीटीपी/रि-अपीयर) की परीक्षा में 64,367 परीक्षार्थी प्रविष्ट हुए थे, जिनमें से 25,522 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए और 38,845 परीक्षार्थियों की रि-अपीयर आई है। इस परीक्षा में 38,426 लड़के बैठे थे, जिनमें से 15,191 पास हुए। इनकी पास प्रतिशतता 39.53 रही है, जबकि 25,941 प्रविष्ट लड़कियों में से 10,331 पास हुई। इनकी पास प्रतिशतता 39.82 रही है। उन्होंने बताया कि लड़कियों ने लड़कों की अपेक्षा पास प्रतिशतता में 0.29 प्रतिशत की बढ़ोतरी अर्जित की है तथा ग्रामीण क्षेत्र के परीक्षार्थियों की पास प्रतिशतता 39.35 रही है। शहरी क्षेत्र के परीक्षार्थियों की पास प्रतिशतता 40.57 रही है।

यह रही है पिछले कुछ वर्षों में पास प्रतिशतता 

  • वर्ष        फ्रेश            रि-अपीयर
  • 2017     12.04         27.45
  • 2018     11.23         21.79
  • 2019     11.84         26.72
  • 2020     16.92         39.65

सार

  • महज 16.92 फीसदी ही हुए पास, 16915 परीक्षार्थियों ने दी थी परीक्षा
  • 17.60 फीसदी लड़के और 15.44 फीसदी लड़कियां हुईं पास

विस्तार

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने सेकेंडरी ओपन (मुक्त विद्यालय) का परिणाम घोषित कर दिया है। परिणाम में 87.96 फीसदी परीक्षार्थी फेल हो गए हैं। बोर्ड का परिणाम पिछले वर्ष की तुलना में हालांकि 0.8 फीसदी सुधरा है। परिणाम 16.92 फीसदी रहा। 17.60 फीसदी लड़के तो 15.44 फीसदी लड़कियां पास हुईं।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने हरियाणा मुक्त विद्यालय परीक्षा मार्च-2020 की सेकेंडरी (फ्रेश) एवं सब्जेक्ट टू बी क्लीयर (सीटीपी)/(रि-अपीयर) परीक्षा का परिणाम बोर्ड चेयरमैन डॉ. जगबीर सिंह और सचिव राजीव प्रसाद ने घोषित किया। परीक्षार्थी अपना परीक्षा परिणाम बोर्ड की वेबसाइट पर देख सकते हैं। 

बोर्ड अध्यक्ष एवं सचिव ने बताया कि लॉकडाउन (कोविड-19 महामारी) से पूर्व सेकेंडरी मुक्त विद्यालय (फ्रेश) मार्च-2020 की परीक्षा के केवल चार विषयों की परीक्षा ही संचालित हो सकी थी। सेकेंडरी मुक्त विद्यालय (फ्रेश) का परिणाम 16.92 फीसदी और सेकेंडरी मुक्त विद्यालय (सीटीपी/रि-अपीयर) मार्च-2020 की परीक्षा का परिणाम 39.65 फीसदी रहा है। 

बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि सेकेंडरी मुक्त विद्यालय (फ्रेश) की परीक्षा में 16,915 परीक्षार्थी प्रविष्ट हुए थे, जिनमें से 2,862 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए और 14053 परीक्षार्थियों की रि-अपीयर आई है। 11545 लड़कों ने परीक्षा दी थी, जिनमें से 2032 पास हुए। इनकी पास प्रतिशतता 17.60 रही है, जबकि 5,369 प्रविष्ट लड़कियों में से 829 पास हुई। इनकी पास प्रतिशतता 15.44 रही है। 

[ad_2]

Source link

Related articles

Leave a Reply