10 दिन पहले लिव इन में रह रहे किराएदार की हत्या, अब मां-बेटी को चाकू से गोदकर मार डाला

10 दिन पहले लिव इन में रह रहे किराएदार की हत्या, अब मां-बेटी को चाकू से गोदकर मार डाला

[ad_1]

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पानीपत (हरियाणा)
Updated Sat, 18 Jul 2020 01:56 AM IST

इंद्रा कालोनी में लिव इन में रह रहे किराएदार की हत्या के 10 दिन बाद महिला और उसकी बेटी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। दोनों के शरीर पर चाकू से कई वार किए गए थे। पड़ोसियों ने शंका होने पर शुक्रवार की रात पुलिस को सूचना दी। पुलिस घर का दरवाजा तोड़कर अंदर दाखिल हुई तो मां-बेटी का खून से लथपथ शव मिला।

पुलिस को शक है कि मां-बेटी के जानकार ने ही उनकी हत्या की है। इसके साथ ही मृतक किराएदार के परिजनों पर भी शक की सुई घूम रही है। हालांकि दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। शुक्रवार की रात करीब नौ बजे पड़ोसियों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची।

घर से टीवी की आवाज आ रही थी लेकिन कोई भी दरवाजा नहीं खोल रहा था। जिस पर पुलिस मकान के पीछे के दरवाजे को तोड़कर अंदर दाखिल हुई। कमरे में रानी (41) का शव बेड पर पड़ा था और उसकी बेटी गीता उर्फ अंजलि (17) का शव फर्श पर पड़ा था। दोनों के शरीर पर कई बार चाकू से वार किया गया था।

पुलिस के मुताबिक दोनों की हत्या गुरुवार की रात की गई और शुक्रवार की सुबह से लेकर रात तक भी घर में कोई हलचल नहीं देने पर पड़ोसियों ने सूचना दी। पुलिस को शक है कि रानी के साथ लिव इन रिलेशन में रहे मृतक किराएदार इदरीश (50) या रानी के जानकारों में से ही किसी ने वारदात को अंदाज दिया है।

गौरतलब है कि गत सात जुलाई की रात को रानी के बेटे अंकुश ने (19) इदरीश की किचन के चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी थी। उसे मां के साथ इदरीश का लिवइन में रहने पर एतराज था। जिसके लिए वह कई बार इदरीश को टोक भी चुका था। इस वारदात के दौरान उसने अपनी मां के कान पर भी चाकू से वार किया था। हालांकि दो दिन बाद ही अंकुश को पुलिस ने इदरीश की हत्या के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इस मामले में डीएसपी सतीश वत्स ने बताया कि पुलिस टीम का गठन कर हत्या आरोपियों की तलाश में लगा दिया गया है

सार

  • रात को नौ बजे पड़ोसियों की सूचना पर पुलिस पहुंची, कमरे में मां-बेटी का शव मिला, कई बार चाकू से गोदा गया
  • मृतक महिला के 19 वर्षीय बेटे ने ही मां के साथ लिव इन में रह रहे किराएदार की चाकू से गला रेतकर की थी हत्या

विस्तार

इंद्रा कालोनी में लिव इन में रह रहे किराएदार की हत्या के 10 दिन बाद महिला और उसकी बेटी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई। दोनों के शरीर पर चाकू से कई वार किए गए थे। पड़ोसियों ने शंका होने पर शुक्रवार की रात पुलिस को सूचना दी। पुलिस घर का दरवाजा तोड़कर अंदर दाखिल हुई तो मां-बेटी का खून से लथपथ शव मिला।

पुलिस को शक है कि मां-बेटी के जानकार ने ही उनकी हत्या की है। इसके साथ ही मृतक किराएदार के परिजनों पर भी शक की सुई घूम रही है। हालांकि दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। शुक्रवार की रात करीब नौ बजे पड़ोसियों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची।

घर से टीवी की आवाज आ रही थी लेकिन कोई भी दरवाजा नहीं खोल रहा था। जिस पर पुलिस मकान के पीछे के दरवाजे को तोड़कर अंदर दाखिल हुई। कमरे में रानी (41) का शव बेड पर पड़ा था और उसकी बेटी गीता उर्फ अंजलि (17) का शव फर्श पर पड़ा था। दोनों के शरीर पर कई बार चाकू से वार किया गया था।

पुलिस के मुताबिक दोनों की हत्या गुरुवार की रात की गई और शुक्रवार की सुबह से लेकर रात तक भी घर में कोई हलचल नहीं देने पर पड़ोसियों ने सूचना दी। पुलिस को शक है कि रानी के साथ लिव इन रिलेशन में रहे मृतक किराएदार इदरीश (50) या रानी के जानकारों में से ही किसी ने वारदात को अंदाज दिया है।

गौरतलब है कि गत सात जुलाई की रात को रानी के बेटे अंकुश ने (19) इदरीश की किचन के चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी थी। उसे मां के साथ इदरीश का लिवइन में रहने पर एतराज था। जिसके लिए वह कई बार इदरीश को टोक भी चुका था। इस वारदात के दौरान उसने अपनी मां के कान पर भी चाकू से वार किया था। हालांकि दो दिन बाद ही अंकुश को पुलिस ने इदरीश की हत्या के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इस मामले में डीएसपी सतीश वत्स ने बताया कि पुलिस टीम का गठन कर हत्या आरोपियों की तलाश में लगा दिया गया है

[ad_2]

Source link

Related articles

Leave a Reply