चौबीस घंटे के भीतर दिल्ली के इस अस्पताल में नहीं हुई एक भी मौत, मुख्यमंत्री ने दी जानकारी

नई दिल्ली: एक राहत भरी खबर दिल्ली से आ रही है. कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के बीच दिल्ली के एनएनजेपी अस्पताल में चौबीस घंटे के भीतर एक भी मौत नहीं हुई है. इस बीच दिल्ली में कोरोना वायरस से ठीक होने की दर (Recovery Rate) 88% से ज्यादा हो गई है. खुद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस बात की जानकारी दी है. बताते चलें कि मंगलवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में चौबीस घंटे के भीतर कोरोना वायरस के मात्र 1,065 पॉजिटिव मामले ही सामने आए थे.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को ट्विटर पर घोषणा की, ‘‘कल हमारे सबसे बड़े कोविड अस्पताल एलएनजेपी में कोई मौत नहीं हुई.’’ अस्पताल के चिकित्सा निदेशक सुरेश कुमार ने कहा, ‘‘पिछले कुछ महीनों में कोविड-19 के कारण कम से कम एक मौत प्रतिदिन दर्ज की गई, लेकिन कल एलएनजेपी में कोई भी मौत नहीं हुई.’’ उन्होंने कहा कि मंगलवार शाम तक अस्पताल के 2,000 बेड में से 389 पर कोविड-19 के रोगी भर्ती हैं, जिनमें से 88 आईसीयू में हैं और दो वेंटिलेटर पर हैं.

दिल्ली में मंगलवार को कोरोना वायरस के 1,056 नये मामले सामने आने के बाद कोविड-19 से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 1.32 लाख से अधिक पहुंच गई जबकि मृतकों की संख्या बढ़कर 3,881 हो गई है. एलएनजेपी अस्पताल में सोमवार को इस बीमारी के कारण किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई. ऐसा पिछले कुछ महीनों में पहली बार हुआ है कि संक्रमण के कारण किसी मरीज की जान नहीं गई.

ये भी पढ़ें: अब देश में नहीं होगी सेनिटाइजर की किल्लत, बिक्री के नियमों में हुए हैं बदलाव

दिल्ली सरकार ने लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल को कोविड-19 मामलों के लिए विशेष रूप से निर्धारित किया गया है. दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के एक बुलेटिन के अनुसार, कोविड-19 के मामलों की संख्या बढ़कर 1,32,275 हो गई हैं, जबकि इस महामारी से 28 लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या बढ़कर 3,881 हो गई. बुलेटिन के अनुसार, इस समय 10,887 मरीजों का इलाज चल रहा है.

Source link

Leave a Reply