Pm Modi Unesc Speech Live Updates News In Hindi United Nations Economic Social Council Virtual Address – Pm Modi Unesc Speech Live Updates: संयुक्त राष्ट्र में प्रधानमंत्री मोदी का भाषण, यूएनएससी में जीत के बाद पहला संबोधन

Pm Modi Unesc Speech Live Updates News In Hindi United Nations Economic Social Council Virtual Address – Pm Modi Unesc Speech Live Updates: संयुक्त राष्ट्र में प्रधानमंत्री मोदी का भाषण, यूएनएससी में जीत के बाद पहला संबोधन

[ad_1]

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)
– फोटो : पीटीआई

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

खास बातें

  • यूएनएससी में निर्वाचन के बाद पहली बार संयुक्त राष्ट्र की बैठक में वर्चुअल शिरकत कर रहे हैं पीएम
  • भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अस्थायी सदस्य के रूप में 2021-22 के लिए निर्वाचित हुआ है
  • नार्वे की प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग और संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस भी रहेंगे मौजूद
  • आर्थिक एवं सामाजिक परिषद के उच्च स्तरीय सत्र का विषय ‘कोविड-19 के बाद बहुपक्षीयता’

लाइव अपडेट

08:20 PM, 17-Jul-2020

कोरोना से लड़ाई को हमने जन आंदोलन बनाया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र आर्थिक और सामाजिक परिषद ( यूएनईएससी UNESC ) के सत्र को संबोधित कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘हमने सार्क इमरजेंसी फंड बनाया। कोरोना से लड़ाई को हमने जन आंदोलन बनाया। हम गरीबों के लिए आयुष्मान योजना लाए।’

08:15 PM, 17-Jul-2020

चीन से विवाद के बीच यूएन में मोदी, पूरी दुनिया की रहेगी नजर

प्रधानमंत्री मोदी का संयुक्त राष्ट्र में यह संबोधन ऐसे समय में हो रहा है जब भारत का चीन के साथ विवाद जारी है। भारत जहां एक ओर सीमा पर विवाद सुलझाने के लिए कूटनीतिक और सैन्य स्तर पर बातचीत कर रहा है तो दीसरी ओर चीन के साथ कई तरह के व्यापारिक रिश्तों में भी सख्ती दिखा रहा है। हाल ही में भारत ने डाटा सुरक्षा के मुद्दे पर 59 चीनी एप्स बैन किए थे। ऐसे में पूरी दुनिया की नजर मोदी पर रहेगी कि इस अंतरराष्ट्रीय मंच पर वह चीन को लेकर क्या कहते हैं। 

08:06 PM, 17-Jul-2020

‘कोविड-19 के बाद बहुपक्षीयता’ है सत्र का विषय

बता दें कि यूएनईएससी के उच्च स्तरीय सत्र का विषय ‘कोविड-19 के बाद बहुपक्षीयता’ है, जो सुरक्षा परिषद को लेकर भारत की प्राथमिकता दर्शाता है। इस सालाना सत्र में सरकार, निजी क्षेत्र, नागरिक संस्थानों और शिक्षाविदों सहित विविध समूहों के शीर्ष प्रतिनिधि शामिल होंगे।

07:58 PM, 17-Jul-2020

जब बोले थे मोदी, दुनिया को भारत ने युद्ध नहीं बुद्ध दिए

पिछले साल संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर आतंकवाद पर तीखा हमला बोला था। उन्होंने कहा था कि हमने दुनिया को युद्ध नहीं बल्कि बुद्ध दिए हैं। हमारी आवाज में आतंकवाद के खिलाफ दुनिया को सतर्क करने की गंभीरता और आक्रोश दोनों हैं। आतंकवाद के मुद्दे पर बंटी हुई दुनिया उन सिद्धांतों को चोट पहुंचाती है, जिनके आधार पर संयुक्त राष्ट्र का गठन हुआ है।

07:45 PM, 17-Jul-2020

पिछले साल संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित किया था

इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने पिछले साल सितंबर में संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित किया था। तब प्रधानमंत्री ने आतंकवाद के खिलाफ आवाज उठाते हुए अंतरराष्ट्रीय समुदाय से इस वैश्विक संकट से निपटने के लिए एक साथ आने की अपील की थी। इसके साथ ही उन्होंने महात्मा गांधी और स्वच्छता जैसे मुद्दों का भी जिक्र किया था। 
 

07:36 PM, 17-Jul-2020

संयुक्त राष्ट्र की स्थापना का 75वां साल

संयुक्त राष्ट्र की स्थापना 24 अक्तूबर 1945 को अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को में हुई थी। इस साल 24 अक्तूबर को इस अंतरराष्ट्रीय संगठन को 75 साल पूरे हो जाएंगे। आज हो रहे कार्यक्रम में इस बात पर भी चर्चा की जाएगी कि दुनिया किस तरह का संयुक्त राष्ट्र चाहती है। बता दें कि संयुक्त राष्ट्र का मुख्यालय अमेरिका के न्यूयॉर्क में स्थित है। 

07:30 PM, 17-Jul-2020

बहुपक्षीय प्रणाली और व्यवस्था में सुधार प्राथमिकता

अंतरराष्ट्रीय माहौल में बदलाव और कोविड-19 महामारी के बीच इस सत्र में बहुपक्षीय व्यवस्था को आकार देने से जुड़े अहम कारकों तथा मजबूत नेतृत्व, प्रभावी अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं, व्यापक सहभागिता के जरिए वैश्विक एजेंडे को मजबूत बनाने के रास्तों पर ध्यान केंद्रित करने पर जोर दिया जा रहा है।

07:21 PM, 17-Jul-2020

नार्वे की प्रधानमंत्री और यूएन महासचिव भी मौजूद रहेंगे

भारतीय विदेश मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार इस दौरान नार्वे की प्रधानमंत्री एर्ना सोलबर्ग और संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस भी मौजूद रहेंगे।  इस सालाना उच्च स्तरीय सत्र में सरकार, निजी क्षेत्र, नागरिक संस्थानों और शिक्षाविदों सहित विविध समूहों के उच्चस्तरीय प्रतिनिधि शामिल हो रहे हैं। इसमें इस बात पर विचार रखे जाएंगे कि 75वीं वर्षगांठ पर हम कैसा संयुक्त राष्ट्र चाहते हैं।

07:13 PM, 17-Jul-2020

संयुक्त राष्ट्र की स्थापना का 75वां साल

संयुक्त राष्ट्र की स्थापना 24 अक्तूबर 1945 को अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को में हुई थी। इस साल 24 अक्तूबर को इस अंतरराष्ट्रीय संगठन को 75 साल पूरे हो जाएंगे। आज हो रहे कार्यक्रम में इस बात पर भी चर्चा की जा रही है कि दुनिया किस तरह का संयुक्त राष्ट्र चाहती है। बता दें कि संयुक्त राष्ट्र का मुख्यालय अमेरिका के न्यूयॉर्क में स्थित है। 

07:06 PM, 17-Jul-2020

यूएनएससी में सदस्यता के बाद पहली बार शिरकत

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) की अस्थायी सीट पर भारत के निर्वाचन के बाद पहली बार प्रधानमंत्री मोदी संयुक्त राष्ट्र की बैठक में शामिल हुए हैं। बता दें कि यूएनएससी  के अस्थायी सदस्य के रूप में भारत सत्र 2021-22 के लिए निर्वाचित हुआ है। प्रधानमंत्री का यह संबोधन संयुक्त राष्ट्र की 75वीं सालगिरह की पूर्व संध्या पर आयोजित हो रहा है। 

07:02 PM, 17-Jul-2020

संयुक्त राष्ट्र में प्रधानमंत्री मोदी का भाषण, यूएनएससी में जीत के बाद पहला संबोधन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राष्ट्र आर्थिक और सामाजिक परिषद ( यूएनईएससी UNESC ) के सत्र को आज संबोधित करने वाले हैं। यूएनईएससी के इस उच्च स्तरीय सत्र का विषय ‘कोविड-19 के बाद बहुपक्षीयता’ है, जो सुरक्षा परिषद को लेकर लेकर भारत की प्राथमिकता को दर्शाता है, जहां उसने कोविड-19 के बाद के विश्व में बहुपक्षीय सुधार की बात कही है।इससे पहले जनवरी 2016 में पीएम मोदी ने यूएनईएससी की 70वीं वर्षगांठ के मौके पर भाषण दिया था। 



[ad_2]

Source link

Related articles

Leave a Reply